प्रभारी मंत्री उमेश पटेल ने सी-मार्ट एवं सिटी सर्विलांस सिस्टम का किया शुभारंभ

by admin
Spread the love

बलौदाबाजार, केबिनेट एवं जिला प्रभारी मंत्री उमेश पटेल ने आज जिला मुख्यालय के बुनियादी स्कूल परिसर में स्थित सी-मार्ट एवं पुलिस कन्ट्रोल रूम में बलौदाबाजार शहर सिटी सर्विलांस सिस्टम का फीता काटकर शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होनें सी-मार्ट में विक्रय के लिए रखें गए उत्पादों को देखकर प्रशंसा की। उन्होनें कहा कि आने वाले समय में यह सी-मार्ट आत्मनिर्भरता की पहचान बनकर उभरेगा। उनसे महिला स्वसहायता समूहों की महिला सदस्यों की आमदनी में निश्चित रूप से बढ़ोतरी होगा। इस दौरान संसदीय सचिव एवं विधायक बिलाईगढ़ चन्द्रदेव राय, अध्यक्ष कृषक कल्याण परिषद सुरेंद्र शर्मा,पूर्व राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश वर्मा,पूर्व विधायक जनकराम वर्मा, जिला अध्यक्ष हितेन्द्र ठाकुर,डीएमएफ सदस्यसुनील महेश्वरी,कलेक्टर रजत बंसल,वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक दीपक झा सहित अन्य स्थानीय एवं क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि गण उपस्थित रहे। सी मार्ट लगभग 6 हजार वर्ग फुट में बने इस शॉप में सुबह से लेकर शाम तक उपयोग होने वाली दैनिक दिनचर्या की एफएमजीसी समाने उपलब्ध रहेगी। जिसमें हल्दी, मिर्च,पापड़,चिप्स,बड़ी,आचार, मिस्चर,फिनाइल, हैंडवॉश, वसिंग पाउडर,अगरबत्ती,धूप,दोना पत्तल, झाड़ू एवं मिट्टी के बर्तन उपलब्ध  रहेंगे। उक्त उत्पाद जिले के विभिन्न गौठान में स्थित आजीविका सेंटर में कार्य करनें वाली महिला स्व सहायता समूहों के द्वारा तैयार किए गए है। इसी के साथ ही सी मार्ट में वन विभाग के मशहूर ब्रांड छत्तीसगढ़ हर्बल के भी विभिन्न उत्पाद विक्रय हेतु उपलब्ध होंगे।नउक्त दुकान अभी सुबह 9 बजें से लेकर रात 8 बजे तक खुला रहेगा। मंत्री उमेश पटेल ने सिटी सर्विलांस सिस्टम का अवलेाकन कर उन्होंने इसके लिए प्रलिस प्रशासन की पीठ थपथपाई। यह संपूर्ण आधुनिक सिस्टम पुलिस कंट्रोल रूम में स्थापित किया गया है। सिटी सर्विलांस सिस्टम के तहत शहर के सभी प्रमुख चौक चौराहों एवं प्रवेश मार्गों में उच्च क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरा स्थापित किया गया है। जिससे शहर के अंदर प्रवेश करने एवं बाहर जाने वाले सभी लोगों,वाहनों आदि पर सतत सूक्ष्म निगाह रखी जा सकती है। इसके अलावा शहर की यातायात व्यवस्था को भी इसी सिस्टम के माध्यम से संपादित किया जा सकता है।सर्विलांस सिस्टम स्थापित होने से शहर के प्रमुख मार्ग अथवा चौक चौराहा में किसी भी प्रकार की चोरी, लूट, हत्या जैसे गंभीर अपराधों की सूचना तुरंत पुलिस को मिल जाएगी एवं इस सिस्टम के जरिए अपराधियों की भी पहचान करने में बहुत आसानी होगी। साथ ही किसी धरना जुलूस आदि की भीड़ में शामिल होकर किसी भी प्रकार के उपद्रव अथवा अशांति फैलाने वाले असामाजिक तत्वों की पहचान कर कानून व्यवस्था बनाए रखने में भी अत्यंत सहायक सिद्ध होगा। इस दौरान पुलिस विभाग के आला अधिकारी गण सहित स्थानीय मिडिया के प्रतिनिधि गण भी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Comment