20 साल की हदीस नफाजी को पुलिस ने मारी गोली

by admin
Spread the love

ईरान में हिजाब के खिलाफ महिलाओं का आंदोलन जोर पकड़ रहा है हिजाब के विरोध में ऑनलाइन लोगों के बीच मशहूर हुई 20 साल की हदीस नफाजी को पुलिस ने तेहरान के नजदीक कराज सिटी में प्रदर्शन के दौरान गोली मार दी।  हदीस नफाजी का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था जब वह बिना हिजाब के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए पुलिस के सामने पहुंच गई थी और रबर बैंड से अपने बालों को बांध रही थीं। इसके बाद तेजी से ईरान की सड़कों पर लड़कियां प्रदर्शन करती दिखी थीं।  ईरान में विरोध प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा बलों की कार्रवाई में अब तक 30 से ज्यादा नागरिकों की मौत हो गई है। ये सभी पुलिस द्वारा गिरफ्तारी में महसा अमीनी की मौत के बाद प्रदर्शन कर रहे थे। दरअसल, ईरान में प्रदर्शनों की शुरुआत पिछले हफ्ते हुई थी, जब 22 वर्षीया महसा अमीनी की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। अमीनी को ठीक से नकाब ना पहनने के आरोप में हिरासत में लिया गया था। सरकारी अधिकारियों का कहना था कि अमीनी की मौत दिल का दौरा पड़ने के कारण हुई, लेकिन अमीनी के परिवार ने दावा किया है कि इसके पहले अमीनी को दिल की बीमारी जैसी कोई शिकायत नहीं थी। परिवार का कहना है कि उसकी पुलिस द्वारा पिटाई से मौत हुई है। बता दें कि ईरान में सभी महिलाओं के लिए हिजाब पहनना अनिवार्य है, चाहे वह किसी भी धर्म की हों। इसके चलते ही ईरान की पुलिस वहां पर महिलाओं के खिलाफ सख्ती कर रही है। पुलिस की सख्ती के चलते अमीनी को अपनी जान गंवानी पड़ी। इसके बाद जहां पूरे ईरान में हिजाब के खिलाफ जमकर प्रदर्शन हो रहे हैं। बड़ी संख्या में लोग ईरान की सड़कों पर विरोध कर रहे हैं। इसमें महिलाओं की संख्या भी काफी ज्यादा है। वहीं दूसरी तरफ पूरी दुनिया में भी उसकी किरकिरी भी हो रही है।

Related Articles

Leave a Comment