पाटन में फिर गरमाएगी राजनीति

by Rahul Shende
Spread the love

कांग्रेस के गढ़ में व्यापारी देंगेे धरना, भाजपाई करेंगे समर्थन

जानिए क्या है वजह

पाटन. कांग्रेस के गढ़ पाटन में एक बार फिर राजनीति गरमाने के आसार है। दरअसर यहां के नया बस स्टैंड के व्यापारियों ने कांग्रेस शासित नगर पंचायत के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है। व्यापारियों का कहना है कि नगर पंचायत उन्हें बेदखल कर उनकी जगह नई दुकानें बनाकर नीलामी के माध्यम से रसूखदारों को आवंटन की तैयारी कर रहा है। जिससे उनके रोजी-रोटी छिन जाने का खतरा है। नगर पंचायत प्रशासन ने उन्हें बेदखली का नोटिस भी थमा दिया है। इसके खिलाफ उन्होंने उचित मंचों पर सुनवाई की अपील भी की, लेकिन अनसुनी कर दी गई। लिहाजा अब उनके पास आंदोलन के अलावा कोई भी दूसरा रास्ता नहीं है। व्यापारियों ने शुक्रवार से अनिश्चितकालीन आंदोलन का ऐलान किया है। खास बात यह है कि पाटन के तमाम भाजपा के नेताओं ने व्यापारियों के समर्थन का ऐलान कर दिया है। भाजपा के जिला अध्यक्ष जितेंद्र वर्मा ने गुरुवार को अपने मंडल अध्यक्षों के साथ व्यापारियों के पास पहुंचकर आंदोलन को समर्थन का ऐलान किया।
नगर पंचायत के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना के संबंध में व्यापारियों ने प्रशासन को सूचना भी दे दी है। जिसमें बताया गया है कि बस स्टैंड में विगत बीस वर्षों से पैतीस गरीब फुटकर व्यापारी दुकानदारी करके अपने परिवारों का भरणपोषण करते आ रहे है। नगर पंचायत पाटन के द्वारा उक्त व्यापारियों को हटाने का नोटिस जारी किया गया है। दरअसल उक्त स्थल पर नगर पंचायत के द्वारा स्थाई पक्की दुकानें बनाकर नीलामी के माध्यम से आबंटित किया जाना प्रस्तावित है। दुकानदारों का कहना है कि शासकीय बोली के माध्यम से दुकान ले पाना गरीब फुटकर व्यापारियों के लिए सम्भव नही होगा। सलिए कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे और एसडीएम विपुल गुप्ता के समक्ष आवेदन प्रस्तुत कर बेदखली के बजाए उचित समाधान निकालने की मांग की गई थी। इस पर कोई पहल करने के बजाए उल्टे बेदखली का नोटिस थमा दिया गया।

गरीबों का धंधा छिनने का कुचक्र
इधर व्यापारियों के समर्थन में कुदते हुए भाजपा ने मामले में नगर पंचायत प्रशासन के बहाने प्रदेश सरकार को कटघरे में खड़ा करना शुरू कर दिया है। जिला भाजपा अध्यक्ष जितेंद्र वर्मा ने इसे मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र के नगर पंचायत में गरीबों का धंधा को छीनकर परिवार को भूखों मरने के लिए विवश करने का कुचक्र करार देते हुए आंदोलन को समर्थन का ऐलान किया है। समर्थन की घोषणा करने वालों में नगर पंचायत पाटन के नेता प्रतिपक्ष योगेश भाले, मध्य मंडल के अध्यक्ष खेमलाल साहू, उत्तर मंडल के अध्यक्ष लोकमनी चन्द्राकर, दक्षिण मंडल के अध्यक्ष लालेश्वर साहू भी शामिल थे।

पहले भी हो चुका है हाईप्रोफाइल ड्रामा
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और सांसद विजय बघेल के बीच राजनीतिक प्रतिस्पर्धा के चलते वैसे ही पूरे प्रदेश की नजर यहां रहती है। ऐसे में दोनों ही राजनीतिक दल एक-दूसरे को घेरने का कोई भी मौका छोडऩा नहीं चाहती। इस उपक्रम में पहले ही पाटन में कई हाईप्रोफाइल राजनीतिक ड्रामा हो चुका है। जामगांव एम में धरना प्रदर्शन के दौरान शराब दुकान में लूट कांड और इसके बाद सांसद विजय बघेल और प्रदेश भाजपा का पाटन में हाई वोल्टेज आंदोलन ज्यादा पुरानी नहीं हुई है।

Related Articles

Leave a Comment